Recent Post

Mast Nazron Se Lyrics | Jubin Nautiyal

The beautiful song Mast Nazron Se lyrics written by Manoj Muntashir. Sung by Jubin Nautiyal. Music given by Rochak Kohli.

Note :You can also view lyrics in hindi under 👇

Mast Nazron Se Lyrics

Haa baarishon ka woh mahina
Bhul paayenge kabhi naa
Haa baarishon ka woh mahina
Bhul paayenge kabhi na

Zulf se jab pani jhatka
Tune jhoom ke

Haye aisi khoobsurat
Bhul baithe hum sharafat
Laut aayi paagal aankhein
Tumko choom ke

Ishq tha ya zehar chadh gaya tha
Ishq tha ya zehar chadh gaya tha
Hosh me aaj tak naa aa paye

Mast nazron se allah bachaye
Mast nazron se allah bachaye
Ho husna waalon se allah bachaye

Mast nazron se allah bachaye
Ho husna waalon se allah bachaye

Aashiqui kaatilon ki gali hai
Aashiqui kaatilon ki gali hai
Jeete jee koi wapas naa aaye

Mast nazron se allah bachaye
Ho husna waalon se allah bachaye
Husna waalon se allah bachaye

Hmm hum akele the maze me
Bin piye hi the nashe me
Ek din humein raste me
Mil gaaye phir tum

Ranjhe majnu agle pichhle
Yaad aayein jab hum fisle
Hans ke leli jaan nikle
Aisi shaatir tum

Tauba tauba woh talwaar ankhein
Tauba tauba woh talwaar ankhein
Cheer dala jigar haye haaye

Mast nazron se allah bachaye
Mast nazron se allah bachaye
Ho husna waalon se allah bachaye
Husna waalon se allah bachaye

Hum tumhare tumhare tumhare huye
Hum tumhare tumhare tumhare huye
Khak the pehle ab toh sitaare huye
Hum tumhare tumhare tumhare huye

Uski rehmat ke aise ishaare huye
Uski rehmat ke aise ishaare huye
Tum humare humare humare huye

Haa ishq apna hai masoom isko
Ishq apna hai masoom isko
Dushmanon ki nazar lag naa jaye

Boori nazron se allah bachaye
Boori nazron se allah bachaye
Ishq waalon ko allah bachaye

Boori nazron se allah bachaye
Haa ishq waalon ko allah bachaye
Ishq waalon ko allah bachaye
Ishq waalon ko allah bachaye

Mast Nazron Se Lyrics In Hindi

हा बारिशों का वो महिना
भूल पाएंगे कभी ना:
हा बारिशों का वो महिना
भूल पायेंगे कभी ना

जुल्फ से जब पानी झटका
धुन झूम के

हाय ऐसी खूबसूरत
भूल बैठे हम शराफत
लौट आई पागल आंखें
तुमको चूम के

इश्क था या ज़हर चढ गया था
इश्क था या ज़हर चढ गया था
होश में आज तक न आ पाए

मस्त नज़रों से अल्लाह बचाये
मस्त नज़रों से अल्लाह बचाये
हो हुस्ना वालों से अल्लाह बचाये

मस्त नज़रों से अल्लाह बचाये
हो हुस्ना वालों से अल्लाह बचाये

आशिकी कातिलों की गली है
आशिकी कातिलों की गली है
जीते जी कोई वापस नहीं आया

मस्त नज़रों से अल्लाह बचाये
हो हुस्ना वालों से अल्लाह बचाये
हुस्ना वालों से अल्लाह बचाये

हम्म हम अकेले द भूलभुलैया
बिन पिये हाय द नशे में
एक दिन हमें रास्ते में
मिल गए फिर तुम

रांझे मजनू अगले पिछले
याद आए जब हम फिसले
हंस के लेली जान निकले
ऐसी शातिर तुम

तौबा तौबा वो तलवार आँखें
तौबा तौबा वो तलवार आँखें
चीर डाला जिगर हाय हाय

मस्त नज़रों से अल्लाह बचाये
मस्त नज़रों से अल्लाह बचाये
हो हुस्ना वालों से अल्लाह बचाये
हुस्ना वालों से अल्लाह बचाये

हम तुम्हारे तुम्हारे तुम्हारे हुए
हम तुम्हारे तुम्हारे तुम्हारे हुए
खाक द पहले अब तो सितारे हुए
हम तुम्हारे तुम्हारे तुम्हारे हुए

उसी रहमत के ऐसे जारी हुए
उसी रहमत के ऐसे जारी हुए
तुम हमारे हमारे हुए

हा इश्क अपना है मासूम इस्को
इश्क अपना है मासूम इस्को
दुश्मनो की नज़र लग ना जाये

बुरी नज़रों से अल्लाह बचाये
बुरी नज़रों से अल्लाह बचाये
इश्क़ वालों को अल्लाह बचाये

बुरी नज़रों से अल्लाह बचाये
हा इश्क वालों को अल्लाह बचाये
इश्क़ वालों को अल्लाह बचाये
इश्क़ वालों को अल्लाह बचाये

Mast Nazron Se Song Details

The beautiful song Mast Nazron Se lyrics written by Manoj Muntashir. Sung by Jubin Nautiyal. Music given by Rochak Kohli.

Created By

Abdullah Sahi www.betaamazon.com

All Posts are Protected By DMCA.
Reproduction in Any Form is Strictly Prohibited!

DMCA.com Protection Status
© Beta Lyrics . All rights reserved. Premium By FC Themes
-->